Banner 1
Banner 2

मासिक कार्तिगाई on 22 May 2020 (Friday)

मासिक कार्तिगाई

 

मासिक कार्तिगाई एक विशेष मासिक-त्यौहार है जिसे बहुत ही हर्षोल्लास से मनाया जाता है। इस त्यौहार को तमिल-हिंदुओं द्वारा भी बहुत ही जोर-शोर के साथ मनाया जाता है। 

 

भगवान सुब्रहमण्यम का आशीर्वाद -

 

आदिम और थाई के तमिल महीनों से शुरू होने वाले छह महीनों के लिए अनुष्ठान मनाया जा सकता है। लगातार 12 वर्षों तक माणिक कार्तिगई व्रत का पालन करते हुए कहा जाता है कि भक्तों को महान सौभाग्य और भगवान सुब्रह्मण्यम का आशीर्वाद मिलता है। कार्थिगई व्रत में भोजन से पूरी तरह मना होता है पर आज के समय में ऐसा व्रत रखना संभव नहीं है, तो भक्त फल और दूध का सेवन कर सकते हैं।

 

मासिक कार्तिगाई महोत्सव

 

तमिल-कैलेंडर के अनुसार, यह व्रत-त्यौहार हर महीने पड़ता है। मासिक कार्तिगई पर, भगवान-शिव और भगवान-मुरुगन का आशीर्वाद लेने का बहुत ही अधिक महत्व है और इसीलिये भक्तगण इस दिन सुबह-सुबह अपने दैनिक कार्यों को करने के बाद पूजा-अर्चना में लग जाते हैं। इस दिन मंदिरों में भारी भीड़ देखी जा सकती है क्योंकि वरदान प्राप्त करने के लिय भक्त अपने अपने घर-मंदिरों और अन्य पवित्र स्थानों में अपने प्यारे देवताओं की वंदना करते हैं। 

 

मासिक कार्तिगाई और भगवान कार्तिकेय का जन्मदिन-

 

मासिक कार्तिगाई को भगवान कार्तिकेय के जन्मदिने के रूप में भी मनाया जाता है और इस दिन मंदिरों की रौनक देखते ही बनती है जिसे भगवान मुरुगा, भगवान सुब्रमण्य और भगवान शनमुगा आदि के रूप में जाना जाता है, जिन्हें भगवान शिव के दिव्य पुत्र के रूप में जाना जाता है।