Banner 1
Banner 2

धूमावती जयंती पूजन विधि|

धूमावती जयंती पूजन विधि|
  1. धूमावती जयंती के दिन सूर्य उदय के पूर्व उठे और स्नान आदि कर खुद को शुद्ध कर लें|
  2. भगवान् सूर्य देव को अर्घ्य दें और माँ धूमावती जयंती व्रत का संकल्प लें|
  3. माँ धूवती का स्वरुप माँ के उग्र स्वरुप में से एक है जिनकी सामान्य पूजा निषेध है| इसीलिए माँ धूमावती जयंती के दिन दुर्गा पूजा करें|
  4. माँ दुर्गा को लाल वस्त्र व् श्रृंगार की वस्तुएं अर्पित करें|
  5. धुप, दीप, रोली, मोली, अक्षत, पंचमेवा, फल, फूल, आदि से उनका पूजन करें|
  6. माँ के मंत्रो का उच्चारण करें:
  7. सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।
  8. शरण्ये त्र्यंबके गौरी नारायणि नमोऽस्तुते।।
  9. अब दुर्गा कवच या धूमावती कवच भी पढ़ सकते है|
  10. माँ की आरती करें कंजक अवश्य जिमाएँ|